हर घर की जरूरत को पूरा करने वाले जीरे की खेती कर, कम लागत में कमाए तगड़ा मुनाफा, जाने खेती का तरीका


हर घर की जरूरत को पूरा करने वाले जीरे की खेती कर, कम लागत में कमाए तगड़ा मुनाफा, जाने खेती का तरीका एक कृषि प्रधान देश है जिसमे जीरा की फसल भी एक सबसे महत्वपूर्ण फसल है ,भारतीय कृषि में एक आवश्यक फसल जीरा, किसानों के लिए महत्वपूर्ण लाभ पैदा करने की क्षमता रखता है। राजस्थान और गुजरात जैसे राज्यों में इसकी प्रमुख खेती के साथ, बढ़ी हुई पैदावार प्राप्त करने और अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए जीरे की खेती के उन्नत तरीकों को समझना महत्वपूर्ण हो जाता है,जिससे की किसानो को खेती करने में आसानी होगी

भारत में जीरे की खेती है अच्छा खासा आय का स्रोत

आपको बता दे की भारत में जीरे की खेती बहुत ही लाभदायक है जो किसानों को एक आकर्षक आय स्रोत प्रदान करती है, खासकर जब आधुनिक तकनीकों का उपयोग करके खेती की जाती है। हालाँकि इसकी जड़ें भारत के विभिन्न राज्यों में हैं, राजस्थान और गुजरात के शुष्क क्षेत्र प्रमुख जीरा उत्पादक केंद्र के रूप में उभरे हैं। आपकी जानकारी के लिए बतादे जीरा की आधुनिक खेती की बात की जाये तो भारत ने भी बहुत अच्छी उन्नति की है सभी प्रकार के आधुनिक यंत्रों और मशीनों का प्रयोग कर अच्छे से खेती की जा सकती है।

यह भी पढ़े- दूध की नदिया बहा देती है इस नस्ल की गाय एक दिन में देती है 50 से 80 लीटर दूध, किसान भाई इसका पालन.

जीरे की खेती का तरीका एवं देखभाल

लाखो की कमाई करवाएगी जीरे की खेती। जीरे की बुआई 15 से 20 नवंबर के बीच है। प्रति हेक्टेयर 12 से 15 किलोग्राम बीज की आवश्यकता के साथ, बुवाई से पहले बीज का उपचार करना अनिवार्य है। बुआई के बाद भी सावधानीपूर्वक देखभाल सुनिश्चित करने से स्वस्थ पौध की स्थापना में मदद मिलती है। जीरे की खेती के लिए धैर्य और सटीकता की आवश्यकता होती है। जीरे की उन्नत तरीकों और उन्नत किस्मों के साथ, औसत उपज प्रभावशाली 7-8 क्विंटल प्रति हेक्टेयर तक पहुंच सकती है। बीज से फसल तक की यात्रा लगभग 115 से 120 दिनों तक चलती है। जैसे ही जीरे के पौधे के बीज हल्के भूरे रंग में परिवर्तित होते हैं, यह कटाई के लिए उपयुक्त समय का संकेत देता है। इस तरीके से जीरे का अधिक उत्पादन किया जा सकता है।

यह भी पढ़े- OnePlus को मार्केट से फिकवा देगा Honor का धांसू स्मार्टफोन, 200MP की अमेजिंग कैमरा क्वालिटी देख, लड़किया होंगी मदहोश

जीरा की खेती से कितनी होगी लागत

जीरा एक ऐसी फसल है जो अगर हो जाती है तो लाखो का मुनाफा करवा देगी वरना सब खाक बराबर होता है , जीरा की खेती में लगभग निवेश के लिए प्रति हेक्टेयर करीब 30 से 35 हजार रुपये का खर्च आता है. हालाँकि, उपयुक्त तकनीकों को कुशलतापूर्वक लागू करने से प्रति हेक्टेयर 40 से 45 हजार रुपये की शुद्ध आय हो सकती है।


Leave a Comment