इस प्रकार से शुरू करे मिर्ची की खेती, और कम समय में कमाए तगड़ा मुनाफा, जाने खेती का आसान तरीका


इस प्रकार से शुरू करे मिर्ची की खेती, और कम समय में कमाए तगड़ा मुनाफा, जाने खेती का आसान तरीका मिर्च तीखी गंध और तीखे स्वाद के लिए जानी जाती है। खाने को तीखा बनाने के लिए इसे खाने में डाला जाता है। भारत दुनिया में मिर्च ( Chili ) उत्पादन में चीन, पेरू, स्पेन और मैक्सिको के बाद नंबर एक है।  हरी मिर्च की खेती करेगी किसानों को मालामाल, कम लागत में होगा बड़ा मुनाफा, जानिए खेती करने का आसान तरीका. देश में किसान अब पारंपरिक खेती के बजाय नकदी फसलों की खेती में विशेष रुचि दिखा रहे हैं। क्योंकि नगदी फसल कम समय में बेहतर मुनाफा देती है। मिर्च की खेती कर्नाटक और मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों में बड़े पैमाने पर की जाती है।

इन राज्यों में सबसे ज्यादा होती है मिर्ची की खेती

आपको बता दे की कई राज्यों में लोग बड़े पैमाने पर मिर्ची की खेती करते है आपको बता दे की हरी मिर्च की खेती बहुत ही आसान है. भारत के कई राज्यों में हरी मिर्च की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है। कर्नाटक इस मामले में सबसे ऊपर है। इसमें सर्वाधिक हरी मिर्च का उत्पादन होता है। कर्नाटक पूरे देश की तुलना में 18.75 प्रतिशत हरी मिर्च का उत्पादन करता है। इस मामले में मध्य प्रदेश दूसरे स्थान पर है। यहां 18.62 फीसदी हरी मिर्च का उत्पादन होता है। इसके अलावा बिहार सबसे ज्यादा हरी मिर्च पैदा करने वाले राज्यों में भी आगे है। यहां 12.56 फीसदी हरी मिर्च का उत्पादन होता है।

हरी मिर्च की खेती करने का तरीका

आपको मिर्ची की खेती करने के लिए सबसे पहले ऐसी जमीं का चुनाव करना पड़ेगा जहां जल निकासी की बेहतर सुविधा है। वैसे तो हरी मिर्च को किसी भी प्रकार की मिट्टी में उगाया जा सकता है, लेकिन अगर इसकी खेती कार्बनिक पदार्थों से भरपूर मिट्टी में की जाए तो उपज अधिक होने की उम्मीद रहती है। हरी मिर्च की खेती शुरू करने से पहले आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए जिससे इसका उत्पादन बढ़ता है। सबसे पहले जमीन को ठीक से तैयार करना जरूरी है। खेत की ट्रैक्टर और रोटावेटर से 5-6 बार जुताई करनी चाहिए। जुताई के समय 300 से 400 क्विंटल गोबर की खाद खेत में डालनी चाहिए ताकि मिर्च की जोरदार पैदावार हो सके।

मिर्च का बेहतर उत्पादन कैसे करे

मिर्च का बेहतर उत्पादन कैसे करे तो आपको बता दे की सबसे पहले आपको एक क्यारी बनाना पड़ेगा फिर उसमे अछे किस्म के बीज लगाना पड़ेगा समय-समय पर पानी का छिड़काव किया जाता है। फिर 35 दिनों के बाद मिर्च के पौधे खेत में लगाने के लिए तैयार हो जाते हैं। मिर्च की कटाई रोपण के 60 दिन बाद शुरू होती है। हरी मिर्च में विटामिन सी, फास्फोरस और विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। देश के हर घर के किचन में मिर्ची तो आपने हमेशा ही देखी होगी, क्योंकि इसके बिना खाने में स्वाद नहीं आता. ऐसे में किसानों के लिए पारंपरिक खेती के मुकाबले मिर्च की खेती ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकती है.

हरी मिर्च की खेती कर कमा सकते है तगड़ा मुनाफा

हरी मिर्च की खेती कर कमा सकते है तगड़ा मुनाफा यह बहुत ही प्रॉफिट का बिज़नेस है एक एकड़ में करीब 35 क्विंटल हरी मिर्च का उत्पादन कर सकते हैं। मिर्च की खेती में करीब 20-30 हजार रुपए का खर्च आता है। जबकि बाजार में यह 4000 रुपए प्रति क्विंटल बिक रहा है। इस हिसाब से किसान एक साल में इसकी खेती से लाखों रुपये कमा सकते हैं जिन राज्यों में हरी मिर्च का सबसे ज्यादा उत्पादन होता है। इसके साथ ही आप हरी मिर्च को सुखाकर भी अधिक दाम में बेचकर अधिक से अधिक मुनाफा कमा सकते हैं


Leave a Comment